Shyam Babu Inspirational Story – Ye Nahi Padha To Kuch Nahi Padha -UP PCS Result 2016: 14 साल तक सिपाही रहे बलिया के श्याम बाबू बने SDM,  14 साल से कॉन्स्टेबल लेकिन जिद थी ऑफीसर बनने की, 5 बार प्रयास लेकिन छठीं बार में क्रैक कर लिया UPPSC का इंटरव्यू

आइये इनसे मिलिए इनका नाम श्याम बाबू है l ये पुलिस मे हैं l अपने sp के लिए चाय लाने जा रहे थे l उसी बीच उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग का रिज़ल्ट आ गया l मोबाईल पर चेक किये l चाय लेकर sp साहब के पास पहुँचे l sp साहब के टेबल पर रख कर बताये – ‘साहब मैं sdm हो गया हूँ l रिज़ल्ट आगया है l’ sp साहब तुरन्त खड़े हो गए l सेल्यूट किये l मेज से चाय उठाये और इन्हें पिलाने लगे l

ऐसे संघर्षशील व्यक्ति को मेरा भी सलाम

Shyam Babu Inspirational Story – Ye Nahi Padha To Kuch Nahi Padha

Shyam Babu Inspirational Story - Ye Nahi Padha To Kuch Nahi Padha

बलिया जिले के इब्राहिमाबाद निवासी श्याम बाबू बीए द्वितीय वर्ष में ही थे कि उनका चयन 2005 में पुलिस भर्ती में हो गया। सिपाही तो बन गए लेकिन सपने बडे़ थे। प्राइवेट पढ़ाई कर बीए और फिर एमए की डिग्री हासिल की। लगन व दृढ़ इच्छाशक्ति ऐसी कि सिपाही की ड्यूटी करते हुए भी वर्ष 2017 में नेट की परीक्षा पास की। अब 14 साल तक सिपाही रहने के बाद श्याम बाबू एसडीएम बन गए हैं।

शुक्रवार को जब पीसीएस-2016 का परिणाम आया तो अब श्याम बाबू सिपाही से एसडीएम बन गए हैं।

  • श्याम बाबू के पिता धर्मनाथ गांव में ही किराना की दुकान चलाते हैं।
  • श्याम बाबू ने गांव के प्राथमिक विद्यालय से पढ़ाई की।
  • वर्ष 2001 में श्री सुदिष्ट बाबा इंटर कालेज रानीगंज से हाईस्कूल व 2003 में इंटर पास किया।
  • उसके बाद इन्होंने पीजी कालेज सुदिष्टपुरी में बीए में दाखिला ले लिया।
  • अभी बीए द्वितीय वर्ष की परीक्षा पास की तभी वर्ष 2005 में यूपी पुलिस में भर्ती हो गये।
  • सिपाही की नौकरी करते हुए ही प्राइवेट से परीक्षा देकर 2008 में बीए फाइनल की डिग्री हासिल की। इस समय फिर वे इलाहाबाद पुलिस मुख्यालय से सम्बद्ध हैं।

पीसीएस-2016 में श्याम बाबू से पुलिस की इमेज को लेकर सवाल किए गए।

इस पर वे कहते हैं, ‘पुलिस के प्रति एक धारणा बनी हुई है। उसे आने वाली पीढ़ी तोड़ रही है। गांवों में कहा जाता है कि पुलिस में है तो इधर-उधर का पैसा कमाता होगा। पुलिस और ग्रामीण जनता के बीच दूरियां बहुत हैं, इसे दूर करना चाहिए।’ श्याम बाबू का इंटरव्यू करीब 25 मिनट चला। इस दौरान उनसे कई सवाल किए गए। उन्होंने ये सवाल-जवाब दैनिक भास्कर प्लस ऐप से साझा किए।

Shyam Babu Inspirational Story - Ye Nahi Padha To Kuch Nahi Padha

Shayam Babu UPPCS 2016 Interview – Questions asked in Interview

वर्तमान में आप क्या कर रहे हैं?

यूपीपी में कॉन्स्टेबल के पद पर कार्यरत हूं।

आपकी आखिरी डिग्री कौन सी है?

एमए प्राचीन इतिहास।

स्नातक में कौन-कौन से सब्जेक्ट हैं?

प्राचीन इतिहास, राजनीति शास्त्र ,मनोविज्ञान।

अक्सर देखा जाता है कि चौराहे पर खड़ा ट्रैफिक सिपाही किसी भी गाड़ी को रोक देता है?

यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर ही गाड़ी रोकी जाती है, न कि किसी गलत मंशा में तहत गाड़ी रोकी जाती है।

शायद बीट प्रणाली समाप्त हो गई है। वैसे पुलिस में बीट प्रणाली है क्या?

बीट प्रणाली समाप्त नहीं हुई है। कोतवाली के बड़े क्षेत्र को बीट में बांटकर दरोगा और सिपाहियों की तैनाती की जाती है।

आने वाले समय मे कुम्भ का आयोजन कहां होने वाला है?

प्रयागराज।

कुम्भ का आयोजन किन-किन स्थानों पर होता है?

उज्जैन, प्रयागराज, हरिद्वार, नासिक।

कुम्भ जिन चार स्थानों पर होता है, वहां कौन सी नदियां है?

हरिद्वार में गंगा, उज्जैन में शिप्रा, नासिक में गोदावरी और प्रयागराज में संगम जहां गंगा, यमुना और सरस्वती मिलती हैं।

अशोक और अकबर में से कौन महान शासक था?

दोनों अपने-अपने काल में परिस्थितियों के अनुसार महान कहे गए।

किस अभियान के तहत प्रयागराज पेंटिंग हो रही है?

पेंट माई सिटी।

आम जनता और पुलिस के बीच इतनी दूरी क्यों है?

आज सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों में बदलाव आया है। हालांकि, ग्रामीण इलाकों में अभी भी दूरी देखने को मिल जाती है।

मान लीजिए आप डिप्टी एसपी की पोस्ट पर तैनात हैं तब कैसे इस दूरी को दूर करेंगे?

  • अपने सर्किल के थानों में यह निर्देश देंगे कि सिर्फ घटना होने पर ही किसी जगह नहीं जाएं, बल्कि लोगों से मित्रवत हालचाल पूछें। चौपाल के माध्यम से उनसे मिलकर उनके अंदर बैठी डर की भावना को दूर करें।

भारत में गठित सबसे नया राज्य कौन-सा है? राज्य गठन के बाद उसका सीएम कौन बना था?

  • तेलंगाना 2014 में बना था। के चंद्रशेखर राव इसके सीएम बने।

 

UPSC Prelims 2019 Test Series 500+ Tests Pdf Solution